पहले ही केस दर्ज करा चुकी है वो महिला, देर से जागे हैं पटेल

BJP-MP

नई दिल्ली : ‘हनी ट्रैपिंग’ में फंसे भाजपा के सांसद के सी पटेल के बारे में हर घंटे नए खुलासे हो रहे हैं. बताया जा रहा है कि पटेल को जाल में फांसने वाली वो हाई प्रोफाइल महिला, सुप्रीम कोर्ट की लॉयर है. यह दूसरी बात है कि जांच में पुलिस को महिला के बारे में और ऐसी कई जानकारियां मिल रही है, जो किसी संगठित गिरोह की ओर इशारा कर रहा है. लेकिन, सच यह भी है कि पुलिस के पास पहुंचने में सांसद के सी पटेल देरी कर चुके हैं. पटेल का आरोप है कि उन्हें नशे की स्थिति में लाकर महिला ने अपने फ्लैट पर सेक्स वीडियो तैयार किया. बाद में इसे दिखाकर नहीं सार्वजनिक करने के एवज में 5 करोड़ रुपयों की मांग करने लगी.

के सी पटेल अपनी शिकायत लेकर 29 अप्रैल को नार्थ एवेन्यू थाना पहुंचे थे. पर वो महिला, जिनकी पहचान सुप्रीम कोर्ट के लॉयर के रूप में की जा रही है, वह दिल्ली की अदालत में कई दिनों पहले ही दस्तक दे चुकी थी. महिला ने कोर्ट को बताया था कि गुजरात के वलसाड़ के सांसद के सी पटेल ने अस्मत लूटी है. वे इतने प्रभावशाली हैं कि पुलिस रिपोर्ट नहीं दर्ज कर रही. इसके बाद अदालत ने नार्थ एवेन्यू थाना के SHO को 12 मई को एक्शन टेकेन रिपोर्ट (ATR) दाखिल करने को कहा.

BJP-MP

महिला ने कोर्ट को बताया कि सांसद के सी पटेल अपने किसी मुक़दमे के लिए सुप्रीम कोर्ट में वकील चाहते थे. इस सिलसिले में ही मुलाक़ात हुई. बाद में पटेल ने सबसे पहले 3 मार्च 2017 को अपने बंगले पर डिनर के बहाने बुलाकर रेप किया. फिर इसके बाद यह सिलसिला आगे भी चलता रहा. महिला यह भी कहती है कि सांसद ने उन्हें जुबान बंद रखने की धमकी दी और कहा – मुंह खोला, तो अंजाम बुरा होगा.

महिला के जाल में फंसे सांसद के सी पटेल कह रहे हैं कि सारे आरोप झूठे हैं. लेकिन इसके साथ कबूलगी यह भी है कि वे महिला के साथ उसके फ्लैट पर गए थे. फिर उन्हें नशा मिलाकर कुछ पिला दिया गया. इसके बाद वीडियो बनाया गया और ब्लैकमेलिंग शुरू हो गई. पहले कोर्ट का निर्देश और बाद में पटेल की शिकायत पर जब दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने जांच शुरू की, तो विशेष गिरोह का पता चला. इस गिरोह ने पिछले वर्ष कांग्रेस के एक नेता के खिलाफ भी रेप का झूठा मुकदमा दर्ज कराया था, जिसे जांच के बाद ड्राप कर दिया गया. इस गिरोह की खासियत यह है कि इसमें शामिल महिलायें मीठी-मीठी बातों से देश के प्रभावशाली लोगों को अपने मोह-जाल में फंसाती है और फिर आगे का खेल खेल देती है.

SHAUTS-NEW

BJP-MP-PATEL
सांसद के सी पटेल

जानें कौन हैं सांसद के सी पटेल

‘हनी ट्रैपिंग’ के मामले में फंसे गुजरात के वलसाड के भाजपा सांसद की उम्र 67 साल है. मूल पेशे से डॉक्टर हैं. 2014 में लोकसभा का चुनाव जीते. चुनाव के दौरान जो हलफनामा पटेल ने दाखिल किया था, उसके मुताबिक़ उनके खिलाफ कोई आपराधिक मुकदमा दर्ज नहीं है. मेडिकल की पढ़ाई इन्होंने सूरत के मेडिकल कॉलेज से पूरी की है. लोकसभा का चुनाव लड़ने के बहुत पहले ही वे भाजपा में शामिल हो गए थे.

यह भी पढ़ें :

अब चुप रहने को 5 करोड़ मांग रही महिला, दिल्ली पुलिस सक्रिय

साथ गए थे हाई प्रोफाइल महिला के फ्लैट में, फिर कैद हो गए जासूसी कैमरों में