यूपी विधानसभा में मिला संदिग्ध पाउडर, विस्फोटक होने का शक…!

लाइव सिटीज डेस्क : यूपी विधानसभा के चालू सत्र के दौरान सदन में गुरुवार को सफेद रंग का संदिग्ध पाउडर मिलने से हड़कंप मच गया. दो घंटे की माथापच्ची के बाद भी फरेंसिक टीम नहीं पता कर सकी कि आखिर पाउडर क्या है? यह पाउडर सदन में नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी से कुछ दूरी पर मिला. 60 ग्राम वजन के इस पाउडर को फरेंसिक लैब भेज दिया गया. मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि संदिग्ध पीईटीएन नाम का विस्फोटक मिला है. संदिग्ध पाउडर मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार सुबह आपातकालीन सुरक्षा बैठक बुलाई.

सुरक्षा में इतनी बड़ी चूक होने के बाद विधानसभा में हड़कंप मच गया। तुरंत डॉग स्क्वॉड ने पूरे विधानसभा कक्ष को छाना और रात 12 बजे विधानसभा भवन बंद किया गया. सूत्रों के मुताबिक, सीएम सिक्यॉरिटी से जुड़े लोगों को विधानसभा हॉल के भीतर सबसे पहले इस पाउडर के होने का पता चला था. उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ को जानकारी दी. हालांकि, मौके से डेटोनेटर नहीं मिला.

सीएम ने शाम 4 बजे डीजीपी, प्रुमख सचिव, विधानसभा सचिव, प्रमुख सचिव गृह, प्रमुख सचिव सचिवालय प्रशासन, एडीजी लॉ ऐंड ऑर्डर, एडीजी सिक्यॉरिटी, एएसपी विधान सभा समेत तमाम वरिष्ठ अधिकारियों को बुलाया और विधान सभा और सचिवालय की सुरक्षा में लापरवाही के लिए खूब फटकार लगाई. यह बैठक कमरा संख्या-15 में हुई.

गुपचुप बुलाई गईं जांच टीमें

संदिग्ध पाउडर के बारे में दोपहर को ही पता चल गया था. तुरंत ऐक्शन के बजाय सचिवालय के खाली होने का इंतजार किया गयात्र जब विधानसभा और सचिवालय के ज्यादातर अधिकारी-कर्मचारी चले गए तो गुपचुप तरीके से जांच टीमों को बुलाया गया और पाउडर की जांच करवाई गई.

क्या होता है PETN विस्फोटक

शक्तिशाली प्लास्टिक विस्फोटक होता है
गंधहीन होने के कारण पकड़ना मुश्किल
मेटल डिटेक्टर और कुत्ते भी नहीं पकड़ पाते
दिल्ली हाईकोर्ट में हुए विस्फोट में इसका इस्तेमाल किया गया था
डेटोनेटर के जरिए होता है धमाका
सेना इस्तेमाल करती है, खनन उद्योग में भी होता है प्रयोग